Corona Ka Kahar: भाई के बाद पिता की भी कोरोना ने छीनी सांसें, बेटी को करना पड़ा पिता का अंतिम संस्कार

शाजापुर। प्रदेश में कोरोना के कहर ने कई परिवारों को उजाड़ कर रख दिया है। कई परिवारों में एक साथ कई लोग कोरोना के दंश से काल के गाल में समा गए। प्रदेश में ऐसे कई परिवार हैं जिनमें बेरहम कोरोना का कहर जमकर बरसा। कई परिवारों में 3-4 लोग भी कोरोना का शिकार हो गए। ऐसा ही एक मामला प्रदेश के शाजापुर जिले से सामने आया है। यहां एक परिवार पर कोरोना की ऐसी मार पड़ी कि चिता को आग देने के लिए कोई पुरुष नहीं बचा। कोरोना काल में कई परंपराओं को बदलना पड़ा। शाजापुर एमएलबी स्कूल में प्रिंसिपल के पद से रिटायर हुए अवधेश कुमार सक्सेना के परिवार पर भी ऐसा ही दुखों का पहाड़ टूटा है।

पिछले दिनों सक्सेना का बेटा कोरोना पॉजिटिव हो गया था। इसके बाद अवधेश कुमार सक्सेना भी कोरोना संक्रमण के चपेट में आ गए। इतना ही नहीं अवधेश कुमार सक्सेना का भाई और भतीजा भी कोरोना संक्रमित है। बीते दिनों इलाज के दौरान सक्सेना के बेटे की कोरोना से मौत हो गई। इसके बाद खुद सक्सेना भी कोरोना से नहीं बच सके। अब उनके परिवार में कोई भी पुरुष नहीं बचा है। इसी कारण पिता का अंतिम संस्कार उनकी बेटी तनवी ने ही उनका अंतिम संस्कार किया है।

भाई का भी किया था अंतिम संस्कार…
इससे पहले तनवी ने पिता के कोरोना संक्रमित होने के कारण अपने भाई का भी अंतिम संस्कार किया था। सक्सेना परिवार पर कोरोना का ऐसा कहर बरसा कि उनके हंसते परिवार की खुशियां कोरोना की भेंट चढ़ गईं। तनवी की भाभी भी कोरोना संक्रमित हैं। वहीं तनवी के चाचा और चचेरे भाई का भी कोरोना का इलाज चल रहा है। कोरोना महामारी के कारण कई परिवारों की खुशियां उजड़ गईं हैं। सोमवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में 12062 नए कोरोना संक्रमित मरीज सामने आए हैं। इस आंकड़े के साथ प्रदेश में अब तक कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 6,00,430 पहुंच गया है।

वहीं जानकारी के मुताबिक प्रदेश में 24 घंटे में 93 मरीजों की मौत हुई है। वहीं अब तक इस कोरोना महामारी के मरने वालों की संख्या 5,905 हो गई है। सोमवार को कोरोना के सबसे ज्यादा मामले इंदौर शहर में मिले हैं। यहां 1787 नए मामले सामने आए हैं। वहीं इसके बाद राजधानी भोपाल दूसरे नंबर पर बनी हुई है। यहां 1669 नए मामले सामने आए हैं। वहीं ग्वालियर में 910 एवं जबलपुर में 739 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है। बता दें कि प्रदेश में संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए कोरोना कर्फ्यू अभी भी जारी है। हालांकि कई जिलों में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए कुछ छूट दी गई है। वहीं कई जिलों में लॉकडाउन और कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन किया जा रहा है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password