आखिर बॉलीवुड, हॉलीवुड और टॉलीवुड में ‘वुड’ शब्द का प्रयोग क्यों किया जाता है? जानिए इसके पीछे की कहानी

hollywood

नई दिल्ली। दुनिया भर में हर साल सैकड़ों फिल्में बनती हैं, ये अलग-अलग भाषाओं में बनाई जाती हैं। वर्ल्ड बिजनेस की बात करें तो फिल्म इंडस्ट्री कमाई का बड़ा जरिया है। इस उद्योग से प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से लाखों लोग जुड़े हुए हैं। फिल्म उद्योग कई हिस्सों में बंटा हुआ है। जैसे हॉलीवुड, बॉलीवुड या फिर टॉलीवुड। इसी प्रकार से और भी कई इंडस्ट्री हैं। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि बॉलीवुड, हॉलीवुड और टॉलीवुड में ‘वुड’ शब्द का प्रयोग क्यों होता है? ज्यादातर लोग इस चीज को नहीं जानते हैं। ऐसे में आज हम आपको बताएंगे कि आखिर ऐसा क्यों किया जाता है

फिल्म इंडस्ट्री में वुड शब्द का प्रयोग क्यो होता है

मालूम हो कि Wood शब्द का प्रयोग सबसे पहले हॉलीवुड में किया गया था। इस शब्द को सबसे पहले एच.जे. विटले ने इस्तेमाल किया था। विटले को हॉलीवड का पिता भी कहा जाता है। तब हॉलीवुड एक छोटी सी जगह पर था जिसे लॉस एंजेलिस शहर में बसाया गया था। हालांकि उस वक्त इसे अमेरिका फिल्म इंडस्ट्री के नाम से ही जाना जाता था। लेकिन बाद में जब इसे शहर के मध्यवर्ती इलाके में स्थित कर दिया गया, तो यहीं पर इसका नाम हॉलीवुड रखा गया। वुड शब्द को भारतीय सिनेमा ने भी कॉपी किया। भारत में भाषाई आधार पर बॉलीवुड, टॉलीवुड, कॉलीवुड, सेंडलवुड जैसे कई नामों से इंडस्ट्री बनते चले गए। भारत में इनके अलावा भोजपुरी सिनेमा, पंजाबी सिनेमा, उड़िया सिनेमा, बंगाली सिनेमा, असम सिनेमा जैसे कई छोटे-छोटे फिल्म इंडस्ट्रीज भी हैं।

क्यों रखा गया हॉलीवुड नाम?

जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया कि जब अमेरिकी फिल्म उद्योग लॉस एंजिल्स के मध्य क्षेत्र में बसा, तब उसका नाम हॉलीवुड पड़ा। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह मध्यवर्ती क्षेत्र हॉलीवुड नामक जिले के अंतर्गत आता है। एच. जे. विटले ने इंडस्ट्री का ये नाम जिले के नाम पर ही रखा था। इसके बाद जैसे जैसे दुनिया में फल्में बनने लगी, वैसे वैसे बाकी फिल्म इंडस्ट्री का नामकरण होता रहा और ‘वुड’ शब्द का भी प्रयोग होता रहा।

भारतीय फिल्म उद्योग में वुड शब्द का प्रयोग

1.बॉलीवुड- हिंदी सिनेमा का मुख्य गढ़ बॉम्बें में बना जो अब मुंबई मायानगरी बन चुकी है। यहां पर सिर्फ हिंदी फिल्में ही बनती है और साल में हजारों फिल्में बनकर पर्दे पर आती हैं लेकिन सफल कुछ ही हो पाती हैं। हिंदी सिनेमा इंडस्ट्री को बॉलीवुड कहते हैं जो हॉलीवुड को टक्कर देने वाला है।

2. कॉलीवुड- इस नाम का प्रयोग साउथ इंडियन सिनेमा के तमिल सिनेमा के लिए किया जाता है। ये तमिल फिल्म इंडस्ट्री के लिए पहचाना जाता है।

3. लॉलीवुड- आजादी के पहले लाहौर में भी फिल्म इंडस्ट्री थी लेकिन आजादी के बाद ये पाकिस्तान में चला गया। यहां पर पंजाबी और उर्दू फिल्मों का निर्माण किया जाता है। जिसके बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं।

4. टॉलीवुड- इस शब्द का इस्तेमाल तेलुगू फिल्मों के लिए किया जाता है। मगर इसके पहले इसका इस्तेमाल वेस्ट बंगाल की फिल्मों के लिए किया जाता था।

5. सेंडलवुड- साउथ इंडियन सिनेमा के अंतर्गत कन्नड़ सिनेमा आता है। कर्नाटक की फिल्मों के कन्नड़ भाषा में बनाया जाता है और उन्हें सेंडलवुड कहते हैं। बता दें ब्लॉकबस्टर फिल्म बाहूबली का पहला पार्ट टोटल कन्नड़ फिल्म पर आधारित था लेकिन दूसरे पार्ट में बॉलीवुड का हिस्सा भी इसमें आ गया था।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password