Nandkumar Singh Chauhan: तबियत खराब होने के एकदिन पूर्व संतों के एक कार्यक्रम यह बोले थे ‘नंदू भैय्या’, यह जताई थी इच्छा

nand kumar

भोपाल। खंडवा सांसद और भाजपा के पूर्व प्रदेशअध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान का मंगलवार को दिल्ली के मेधांता अस्पताल में निधन हो गया था। बुधवार दोपहर उनके पैतृक गांव शाहपुर में अंतिम संस्कार किया गया। नंदकुमार की अंतिम यात्रा में सीएम शिवराज सिंह, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित तमाम बड़े नेता मौजूद रहे। नंदकुमार की अंतिम यात्रा में कांग्रेस के भी दिग्गज नेता अरुण यादव, ऊषा ठाकुर, सुरेंद्र सिंह सहित कई विपक्षी नेता भी शामिल हुए। बीती 10 जनवरी को खरगोन जिले के बड़वाह में आयोजित कार्यक्रम में भाजपा के नंदकुमार चौहान ने हिस्सा लिया था। यहां उन्होंने अपने भाषणों में एक इच्छा जताई थी।

मैं प्रत्येक वर्ष अपना जन्मदिन एकांत में प्रभु स्मरण करते हुए मनाता हूं। 12 ज्योर्तिलिंग यात्रा कर लौटे संत नर्मदानंदजी के दर्शन के बाद अब मैं अपना अगला जन्मदिन किसी ऐसी जगह मनाना चाहता हूं, जहां पौधारोपण किया जा सके और गो-सेवा की जा सके। कुछ सार्वजनिक कल्याण के कार्य किए जा सकें। इस कार्यक्रम में भाग लेने के अगले दिन ही उनकी तबियत बिगड़ी थी। इसके बाद कोरोना जांच की गई थी। कोरोना पॉजिटिव होने के बाद उन्हें चिरायु अस्पताल में भर्ती किया गया था। हालांकि कोरोना महामारी से वह ठीक हो गए थे। कोरोना संक्रमण के कारण उनके फेफड़े 90 प्रतिशत तक खराब हो गए थे। एक दिन अचानक तबियत बिगड़ जाने के कारण उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली ले जाया गया था। यहां लगातार उनकी हालत बिगड़ती रही। नंदकुमार ने मंगलवार तड़के दिल्ली के मेधांता अस्पताल में अंतिम सांस ली थी।

यह बोले शिवराज…
सीएम शिवराज सिंह नंदकुमार के अंतिम संस्कार में भाग लेने उनके गांव पहुंचे। यहां भाजपा और कांग्रेस के कई दिग्गज नेता मौजूद रहे। इससे पहले सीएम शिवराज ने नंदकुमार सिंह के निधन पर दुख जताया था। शिवराज ने कहा कि नंदूभैया के जाने से जो शून्य पैदा हुआ है, मध्यप्रदेश के सार्वजनिक जीवन में और भाजपा के जीवन में, और कार्यकर्ता के नाते मेरे निजी जीवन में, वह शून्य कभी भरा नहीं जा सकता। वे एक अलग शख्सियत थे, उनके जैसा कोई नहीं है। आज हम उन्हें अंतिम विदाई देने जा रहे हैं, उनके बिना सब अधूरा है। बता दें कि नंदकुमार कुछ दिन पहले कोरोना महामारी से संक्रमित हो गए थे। इसके बाद उनके फेफड़े खराब होने के कारण मंगलवार तड़के अंतिम सांस ली थी।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password