दिल्ली में 38 लाख रुपये की ठगी के मामले में एक ‘बिल्डर’ गिरफ्तार

नयी दिल्ली, 13 जनवरी (भाषा) अजमेर-जयपुर रोड पर जमीन के प्लॉट बेचने के नाम पर 38 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में एक निर्माण कम्पनी के मुख्य प्रबंध निदेशक को जयपुर से गिरफ्तार किया गया है।

दिल्ली पुलिस ने बुधवार को बताया कि अनिल कुमार शर्मा (40) ने 20 साल पहले एक निर्माण कम्पनी की स्थापना की थी और पश्चिम दिल्ली के जनकपुरी में उसका कार्यालय था। लोगों से पैसे ठगने के लिए वह नई-नई परियोजनाएं शुरू करता था।

कई शिकायतें मिलने के बाद दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने 2018 में शर्मा के खिलाफ जांच शुरू की थी।

पुलिस ने बताया कि लोगों ने आरोप लगाया था कि उन्होंने बिल्डर से 2012 से 2014 के बीच एनएच-8, अजमेर-जयपुर रोड पर ‘आशियाना एनक्लेव’ में प्लॉट खरीदे थे। कई ने यह भी आरोप लगाया कि पूरे पैसों का भुगतान करने के बाद भी उन्हें अब तक कब्जा नहीं मिला।

उन्होंने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि शर्मा ने जयपुर में एनएच-8, अजमेर रोड, ‘आशियाना एनक्लेव’ नाम से एक आवास परियोजना शुरू की और झूठे वादों के साथ उसका प्रचार किया।

पुलिस के अनुसार शर्मा ने 17 लोगों से 38 लाख रुपये ठगे।

प्रारंभिक जांच के बाद, शर्मा के खिलाफ 2018 में एक मामला दर्ज किया गया था और जांच के दौरान, बैंक विवरणों को सत्यापित किया गया और संबंधित दस्तावेजों की भी जांच की गई।

संयुक्त पुलिस आयुक्त (आर्थिक अपराध शाखा) ओ. पी. मिश्रा ने कहा, ‘‘सरकारी भूमि प्राधिकरण की जांच में पता चला है कि परियोजना ‘आशियाना एनक्लेव’ के नाम पर कोई मंजूरी उसने नहीं दी है। बैंक रिकॉर्ड से पता चला कि धोखाधड़ी से अर्जित धन का लाभार्थी आरोपी है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ आरोपी बार-बार नोटिस के बावजूद जांच में शामिल होने से बच रहा था। उसे पकड़ने के लिए, एक टीम गठित की गई और उसे मंगलवार को जयपुर से गिरफ्तार किया गया। उसे दिल्ली की एक अदालत के समक्ष पेश किया गया, जहां से उसे आगे की जांच के लिए एक दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।’’

भाषा निहारिका दिलीप

दिलीप

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password