राजस्थान में और 626 पक्षियों मरे, 16 जिले बर्ड फ्लू से प्रभावित -

राजस्थान में और 626 पक्षियों मरे, 16 जिले बर्ड फ्लू से प्रभावित

जयपुर, 12 जनवरी (भाषा) राजस्थान में मंगलवार को 626 और पक्षी मरे पाए गए। राज्य के 16 जिले बर्ड फ्लू से प्रभावित है।

वहीं झुंझुनूं जिले से भेजे गये पांच पक्षियों के नमूने के मंगलवार को आये जांच परिणाम में ये नमूने संक्रमित पाये गये है। जबकि जांच में भरतपुर और जोधपुर से भेजे गये नमूनों में संक्रमण नहीं पाया गया है।

पशुपालन विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार को 349 कौवे, 52 कबूतर, 22 मौर और 203 अन्य पक्षियों की मौत हो गई।

इसके साथ ही 25 दिसम्बर से अब तक राज्य में कुल 3,947 पक्षियों की मौत हो चुकी है।

विभाग के अनुसार चित्‍तौड़गढ़़ में सबसे अधिक पक्षी संक्रमित पाये गये है। चित्‍तौड़गढ़़ में अब तक 223 पक्षियों की मौत हो चुकी है। इनमें से नौ पक्षियों के नमूनों को जांच के लिये भोपाल की प्रयोगशाला में भेजा गया है। सभी नौ नमूने संक्रमित पाये गये है।

जयपुर में सबसे अधिक पक्षियों की मौत हुई है। अभी तक जयपुर में 686 पक्षियों की मौत हो चुकी है। झालावाड़ में 433 पक्षियों की मौत हो चुकी है वहीं उदयपुर में अभी तक एक भी पक्षी की मौत नहीं हुई है।

भाषा कुंज पृथ्वी मानसी

मानसी

Share This

0 Comments

Leave a Comment

राजस्थान में और 626 पक्षियों मरे, 16 जिले बर्ड फ्लू से प्रभावित

जयपुर, 12 जनवरी (भाषा) राजस्थान में मंगलवार को 626 और पक्षी मरे पाए गए। राज्य के 16 जिले बर्ड फ्लू से प्रभावित है।

वहीं झुंझुनूं जिले से भेजे गये पांच पक्षियों के नमूने के मंगलवार को आये जांच परिणाम में ये नमूने संक्रमित पाये गये है। जबकि जांच में भरतपुर और जोधपुर से भेजे गये नमूनों में संक्रमण नहीं पाया गया है।

पशुपालन विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार को 349 कौवे, 52 कबूतर, 22 मौर और 203 अन्य पक्षियों की मौत हो गई।

इसके साथ ही 25 दिसम्बर से अब तक राज्य में कुल 3,947 पक्षियों की मौत हो चुकी है।

विभाग के अनुसार चित्‍तौड़गढ़़ में सबसे अधिक पक्षी संक्रमित पाये गये है। चित्‍तौड़गढ़़ में अब तक 223 पक्षियों की मौत हो चुकी है। इनमें से नौ पक्षियों के नमूनों को जांच के लिये भोपाल की प्रयोगशाला में भेजा गया है। सभी नौ नमूने संक्रमित पाये गये है।

जयपुर में सबसे अधिक पक्षियों की मौत हुई है। अभी तक जयपुर में 686 पक्षियों की मौत हो चुकी है। झालावाड़ में 433 पक्षियों की मौत हो चुकी है वहीं उदयपुर में अभी तक एक भी पक्षी की मौत नहीं हुई है।

भाषा कुंज पृथ्वी मानसी

मानसी

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password