प्रदेश में 5939 कोरोना मरीज मिले, 15 शहरों में लॉकडाउन बढ़ा चुकी है सरकार, भोपाल में LOCKDOWN बढ़ाने पर आज ​हो सकता है फैसला

mp government

भोपाल। प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। एक बार फिर प्रदेश में कोरोना मरीजों की बढ़ गई है। लगातार मरीजों की संख्या बढ़ने से सरकार और प्रशासन के आला अधिकारी परेशान दिखाइ दे रहे। हालाकि प्रशासन द्वारा कोरोना के रोकने के सभी उपाय किए जा रहे है उसके बाद भी मरीजों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है।

प्रदेश में पिछले 24 घंटे की बात करें तो 5939 कोरोना पॉजिटिव 5939 corona patients in mp केस मिले हैं। इस दौरान 24 मौतें हुईं। मरीजों की संख्या को देखते हुए सरकार अब तक 15 शहरों में लॉकडाउन बढ़ा चुकी है। प्रदेश की राजधानी भोपाल में लगातार कोरोना के मरीज बढ़ रहे है जिसे लेकर सरकार भोपाल में लॉकडाउन बढ़ाने पर फैसला ले सकती है। मुख्यमंत्री दोपहर 3 बजे कोरोना की समीक्षा बैठक करेंगे। इस दौरान वे भोपाल क्राइसिस मैजनेमेंट ग्रुप के सदस्यों से भी बात कर सकते हैं।

सीएम ने राज्यपाल को हालातों की जानकारी देंगे
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज वीडियो कॉन्फ्रेिसंग के जरिए राज्यपाल आंनदी बेन पटेल को कोरोना के हालातों और इसके नियंत्रण के लिए इंतजामों की जानकारी देंगे।

पूरे प्रदेश में लॉक डाउन नहीं लगाया जायगा
उधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बयान सामने आया है। सीएम ने बताया कि आज राज्यपाल ने सर्वदलीय वर्चुअल बैठक बुलाई है। जिसमें कोरोना की स्थिति पर विचार होगा। संक्रमण से लड़ाई जनता की मदद के बिना नहीं जीती जा सकती है। हमीदिया में 250 बिस्तर बढ़ रहे है RKDF भी बिस्तर बढ़ा रहे है। ऑक्सीजन की प्रदेश में कोई कमी नहीं है।
जीवन रक्षक इंजेक्शन कल चार हजार आ गए थे आज पांच हजार आ रहे है।

लॉक डाउन समस्या का हल नहीं

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि संक्रमण बढ़ने से रोकना है तो खुद को जागरूक होना होगा। आज से टीका उत्सव का कार्यकम शुरू हुआ है। हम पूरी ताकत से वेक्सिनेशन का अभियान चलाए हुए है। टीकाकरण अभियान में केंद्र सरकार का भरपूर सहयोग मिल रहा है। लॉक डाउन समस्या का हल नहीं है।

लॉक डाउन नहीं कोरोना कर्फ्यू लगाया गया

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि पूरे प्रदेश में लॉक डाउन नहीं लगाया जायगा। शहरों में लॉक डाउन नहीं कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है जिसमें कई छूट दी गई है। उधोग चलते रहेंगे। टीकाकरण पूरी ताकत से चलेगा। आईटी वीपीओ कंपनी काम करेगी। आर्थिक गतिविधि चालू रहना चाहिए, लेकिन जनता को खुद फैसला करना चाहिए कि वो घर से बाहर नहीं निकले।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password