5 पुलिसकर्मियों ने जेल में बंद महिला की लूट ली इज्जत, इस तरह हुआ मामले का खुलासा

rape news

रीवा। नवरात्र के पहले ही दिन दानवों ने महिला के अस्मत के साथ खिलवाड़ किया। मामला रीवा के मनगंवा थाने का है जहां लॉकअप में हत्या के आरोप में एक महिला बंद थी। महिला पर पांच पुलिस वालों की नियत खराब हुई और पांचों ने मिलकर महिला के साथ बारी बारी से रेप किया। मजबूर महिला उस वक्त तो कुछ ना कर सकी, लेकिन जब ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट और विधिक प्राधिकरण की टीम जेल पहुंची तब महिला ने अपनी सारी आपबीती उन्हें बताई। महिला ने टीआई, एसडीओपी और इसके साथ ही 3 अन्य पुलिसकर्मियों पर रेप का आरोप लगाया जिसके बाद मामले का खुलासा हुआ।

ये है मामला
हत्या के मामले मे आरोपी बनाई गई एक महिला की अस्मत पुलिस वालो ने ही लूट ली। लॉक अप मे बन्द बेबस महिला के साथ एक नहीं बल्कि 5 पुलिस वालों ने अपना मुह काला किया। जेल पहुंची महिला ने जुडिसियल मजिस्टेट के सामने आपबीत बताई और तत्कालीन मनगवा टीआई ,एसडीओपी के साथ ही 3 अन्य पुलिस कर्मियों पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया ।

रीवा अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष राजेन्द्र पान्डेय द्वारा आयोजित पत्रकार वार्ता मे पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुये बताया की मनगवा थाना क्षेत्र के फरेन्दा गांव मे हुई एक हत्या के मामले मे 9 मई को एक महिला को गिरफ्तार कर पुलिस ने लॉकअप मे डाल दिया और तत्कालीन थाना प्रभारी ,एसडीओपी व अन्य तीन पुलिस कर्मियो ने 9 मई से 20 मई के दौरान उसके साथ बलात्कार किया व 21 मई को न्यायालय मे पेस कर उसे जेल भेज दिया। जहां उसने वार्डन को आपबीती बताई लेकिन उसके द्वारा कुछ नहीं किया गया

खुद को अंजान बता दिया
3 दिन पहले रूटीन चेकप के लिये जुडिसियल मजिस्टेट व विधिक प्राधिकरण की टीम जेल गई थी जहा उस महिला ने पूरी घटना बताई जिस पर रिपोर्ट तैयार कर कार्यवाही के लिये न्यायालय भेजा गया जहा से जांच व कार्यवाही करने का एक पत्र एसपी को भेजा गया लेकिन एसपी ने पत्र न मिलने की बात कह कर पूरे मामले से खुद को अंजान बता दिया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password