भारत में ‘रैफरी डेवलपमेंट’ लंबे समय का निवेश है : एआईएफएफ रैफरी निदेशक

नयी दिल्ली, आठ जनवरी (भाषा) अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) के रैफरियों के निदेशक रविशंकर जयरमन को लगता है कि देश में रैफरिंग के स्तर में पिछले कुछ वर्षों में सुधार हुआ है और यह अधिक ‘एक्सपोजर’ व अनुभव के साथ लंबे समय में बेहतर ही होगा।

जयरमन की यह टिप्पणी कुछ कोचों के गोवा में चल रही इंडियन सुपर लीग (आईएसाएल) के कुछ मैचों में खराब अंपायरिंग की आलोचना के बाद आयी है।

हाल में फुटबॉल स्पोर्ट्स डेवलपमेंट लिमिटेड (एफएसडीएल) द्वारा आयोजित ‘ओपन कम्यूनिकेशन फोरम’ की अध्यक्षता करने वाले जयरमन ने कहा, ‘‘निश्चित रूप से सुधार हो रहा है लेकिन यह रातों रात नहीं हो सकता। यह सतत प्रक्रिया है। हमें आगे के बारे में सोचना होगा। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह लंबे समय का निवेश है। रैफरिंग में विकास के नये तरीके हमारे सामने आ रहे हैं, मुझे उम्मीद है कि हमें जल्द ही और अधिक शीर्ष स्तर के रैफरी मिलेंगे जो अपने करियर में शुरू में ही आईएसएल में ही रैफरिंग नहीं करेंगे बल्कि एएफसी और फीफा पैनलिस्ट बनने का लक्ष्य भी बनायेंगे। ’’

भाषा नमिता पंत

पंत

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password