गंभीर यातनाओं की शिकार हथिनी ‘एम्मा’ को वन विभाग ने बचाया, मथुरा के हाथी संरक्षण केंद्र को सौंपा -

गंभीर यातनाओं की शिकार हथिनी ‘एम्मा’ को वन विभाग ने बचाया, मथुरा के हाथी संरक्षण केंद्र को सौंपा

मथुरा, छह जनवरी (भाषा) झारखण्ड में धनबाद के वन विभाग ने 40 वर्षीय हथिनी ‘एम्मा’ को उसके अनधिकृत मालिकों से मुक्त कराकर उत्तर प्रदेश के वन विभाग के सहयोग से उसे मथुरा के हाथी संरक्षण केंद्र को सौंपा है।

पैरों में भीषण दर्ज एवं ‘ऑस्टियोआर्थराइटिस’ जैसी जोड़ों की गंभीर बीमारी से पीड़ित एवं गंभीर रूप से कुपोषित इस हथिनी को एक गैरसरकारी संस्था द्वारा संचालित हाथी संरक्षण केंद्र पर लाकर उसका उपचार कराया जा रहा है।

मथुरा के जिला वन संरक्षण अधिकारी रघुनाथ मिश्रा ने बताया, ‘‘हथिनी का ‘वाइल्डलाइफ एसओएस टीम’ की देखरेख में उपचार चल रहा है। उससे दिन भर काम करवाने के बाद रात में उसे कसकर बांध दिया जाता था। जिसकी वजह से वह लेटने और आराम करने में भी असमर्थ थी।’’

उन्होंने बताया कि उसकी हालत की जानकारी मिलने पर झारखंड और उत्तर प्रदेश दोनों राज्यों के प्रमुख वन्यजीव वार्डन ने बीमार हथिनी को तत्काल लाने की अनुमति जारी की, इसके बाद नए साल की पूर्व संध्या पर एक दल को मथुरा से धनबाद के लिए रवाना किया गया।

पशुचिकित्सा सेवाओं के उप-निदेशक डॉ. इलैयाराजा ने बताया है कि वर्षों की उपेक्षा और दुर्व्यवहार ने उसके स्वास्थ्य पर गंभीर असर डाला है।

उन्होंने बताया कि उसके पैरों में कांच, कीलें और पत्थर के टुकड़े घुसे थे, जो निकाल दिए गए हैं।

भाषा सं शोभना

शोभना

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password