चुनाव से पहले बिहार को मिली 14 हजार करोड़ रुपये की सौगात, PM मोदी बोले- खत्म नहीं होंगी कृषि मंडियां

चुनाव से पहले बिहार को मिली 14 हजार करोड़ रुपये की सौगात, PM मोदी बोले- खत्म नहीं होंगी कृषि मंडियां

14 thousand crore gift to Bihar before elections, PM Modi said - Agricultural mandis will not end

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले करीब 14 हजार करोड़ रुपये की सौगात दे दी। पीएम मोदी ने 9 हाइवे प्रोजेक्ट के साथ बिहार के करीब 46 हजार गांवों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ने के लिए घर तक फाइबर योजना का उद्गाटन किया। इन योजनाओं के माध्यम से गावों को ऑप्टिकल फाइबर इंटरनेट सेवाओं से जोड़ने वाला ‘घर तक फाइबर’ कार्यक्रम शामिल है।

तकनीक तक आसानी से पहुंच पाएंगे
उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कनेक्टिविटी देश के हर गांव तक पहुंचाने के लक्ष्य साथ देश आगे बढ़ रहा है। जब गांव-गांव में तेज़ इंटरनेट पहुंचेगा तो गांव में पढ़ाई आसान होगी। गांव के बच्चे, युवा भी एक क्लिक पर दुनिया की किताबों तक, तकनीक तक आसानी से पहुंच पाएंगे।

 

आज भारत और बिहार के लिए भी बड़ा दिन
पीएम मोदी ने कहा कि इन परियोजनाओं के लिए बिहार को बधाई देता हूं साथ ही आज भारत और बिहार के लिए भी बड़ा दिन है। भारत को आत्मनिर्भर बनाने की शुरुआत बिहार से हो रही है। एक दिन में बिहार के 45 हजार गांवों को ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ा जाएगा।

कृषि मंडियों को आधुनिक बनाने के लिए काम किया
कृषि बिल के मुद्दे पर पीएम मोदी ने कहा कि कल देश की संसद ने, देश के किसानों को नए अधिकार देने वाले बहुत ही ऐतिहासिक कानूनों को पारित किया है। मैं देश के लोगों को, देश के किसानों को इसके लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं। ये सुधार 21वीं सदी के भारत की जरूरत है।

 

पीएम मोदी ने कहा कि मैं यहां स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि ये कानून, ये बदलाव कृषि मंडियों के खिलाफ नहीं हैं। कृषि मंडियों में जैसे काम पहले होता था, वैसे ही अब भी होगा। बल्कि ये हमारी ही एनडीए सरकार है जिसने देश की कृषि मंडियों को आधुनिक बनाने के लिए निरंतर काम किया है।

आखिर ये कब तक चलता रहता
मोदी ने कहा कि हमारे देश में अब तक उपज बिक्री की जो व्यवस्था चली आ रही थी, जो कानून थे, उसने किसानों के हाथ-पांव बांधे हुए थे। इन कानूनों की आड़ में देश में ऐसे ताकतवर गिरोह पैदा हो गए थे जो किसानों की मजबूरी का फायदा उठा रहे थे। आखिर ये कब तक चलता रहता।

 

13हजार करोड़ रु. MSP पर दिया गया
मोदी ने कहा कि मैं देश के प्रत्येक किसान को इस बात का भरोसा देता हूं कि MSP की व्यवस्था जैसे पहले चली आ रही थी, वैसे ही चलती रहेगी। इस साल रबी में गेहूं, धान, दलहन और तिलहन को मिलाकर, किसानों को 1लाख 13हजार करोड़ रु. MSP पर दिया गया है। ये राशि भी पिछले साल के मुकाबले 30% से ज्यादा है।

देश में कोल्ड स्टोरेज का भी नेटवर्क विकसित होगा
मोदी ने कहा कि अब देश के किसान, बड़े-बड़े स्टोरहाउस में, कोल्ड स्टोरेज में इनका आसानी से भंडारण कर पाएंगे। जब भंडारण से जुड़ी कानूनी दिक्कतें दूर होंगी तो हमारे देश में कोल्ड स्टोरेज का भी नेटवर्क और विकसित होगा, उसका और विस्तार होगा। कार्यक्रम में कृषि बिल के लिए सीएम नीतीश ने पीएम मोदी का आभार जताया।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password