12वीं पास लड़का बैंक मैनेजर बनकर खातों से गायब कर देता था पैसे

Bank fraud

भोपाल। बिहार के एक छोटे से गांव में बैठा 12वीं पास खुद को बैंक मैनेजर बताकर सायबर जालसाजी कर रहा था। लोगों को बैंक के एकाउंट का केवाईसी अपडेट करने के नाम पर ओटीपी हासिल कर खाते से रुपए निकाल लेता था। भोपाल की सायबर क्राइम टीम आरोपी को पकड़ने बिहार गई, तो गांव वालों ने उन्हें घेर लिया। बड़ी मुश्किल से पुलिस उन्हें पकड़कर ला पाई।

43000 रुपये की धोखाधड़ी की गई
सायबर क्राइम टीम ने बताया कि आवेदक आरबी अग्रवाल निवासी विद्या नगर भोपाल के द्वारा आवेदन दिया गया जिसमें आरोपी खुद को बैंक मैनेजर बता कर अकाउंट केवाईसी अपडेट करने के नाम पर ओटीपी प्राप्त कर 43000 रुपये की धोखाधड़ी की गई है। आवेदन पत्र की जांच के दौरान थाना क्राइम ब्रांच भोपाल में अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध मामला दर्ज कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान प्रकरण में आरोपी नरेश यादव को बिहार से भोपाल पुलिस की साइबर क्राइम टीम द्वारा गिरफ्तार किया गया।

इस तरह करता था ठगी
आरोपी स्वयं को बैंक मैनेजर बनकर लोगों को मोबाइल फोन से कॉल करते थे उन्हें पूर्ण विश्वास में लेकर यह विश्वास दिलाते है कि बैंक मैनेजर बोल रहे हैं तदुपरांत उन्हें अकाउंट केवाईसी अपडेट के बारे में बता कर यह कहते थे कि यदि अकाउंट केवाईसी नहीं हुआ तो आपका अकाउंट बंद हो जाएगा इसी तरीके से जाल में फंसा कर फरियादी से डेबिट कार्ड की जानकारी लेकर सीवीवी नं. लेकर तथा ओटीपी प्राप्त करके स्वयं के खाते में हस्तांतरित कर लेते थे। भोपाल पुलिस ने नरेश यादव पिता भुमेस्वर यादव उम्र 28 साल निवासी ग्राम तेतरियावरण पोस्ट पधार थाना-जयपुर जिला-बांका बिहार को गिरफ्तार कर लिया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password