Black Fungus: ब्लैक फंगस की चपेट में आई 12 साल की बच्ची, डॉक्टर्स ने चार घंटे में किया सफल ऑपरेशन

उज्जैन। प्रदेश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर अभी थमी नहीं थी कि ब्लैक फंगस का कहर बढ़ता जा रहा है। दिन पर दिन ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। वहीं उज्जैन में एक 12 साल की बच्ची ब्लैक फंगस की चपेट में आ गई थी। डॉक्टर्स ने चार घंटे के मुश्किल ऑपरेशन के बाद बच्ची की आंखों से ब्लैक फंगस निकाल दिया है। यह ऑपरेशन सोमवार को उज्जैन के जिला अस्पताल में किया गया है। इस अस्पताल के सिविल सर्जन और उनकी टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद यह ऑपरेशन किया है।

12 वर्षीय बालिका कुनिका पुत्री राकेश पांड्याखेड़ी गांव की रहने वाली है। कुनिका बीते दिनों कोरोना संक्रमित हो गई थी। इसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती किया गया था। कोरोना के बाद उसकी आंखों में परेशानी हो रही थी। जिसके बाद डॉक्टर्स को दिखाया गया। डॉक्टर्स ने आंखों में ब्लैक फंगस की पुष्टि की थी।

कड़ी मशक्कत के बाद निकाला ब्लैक फंगस
अब सोमवार को डॉक्टर्स ने बच्ची की आंखों से ब्लैक फंगस निकाल दिया है। बता दें कि प्रदेश में कोरोना की रफ्तार अब धीमी होती दिख रही है। सोमवार को आए आंकड़ों की बात करें तो केवल 2936 नए केस सामने आए हैं। वहीं अगर अप्रैल की बात करें तो रोजाना 13 हजार से ज्यादा नए केस सामने आ रहे थे। अब प्रदेश में कोरोना के नए मरीजों की संख्या में कमी देखने को मिल रही है। 10 मई को प्रदेश में एक्टिव केसों की संख्या 1.11 लाख के पार पहुंच गई थी। अब सोमवार को केवल 2936 नए केस सामने आए हैं। वहीं एक्टिव केसों की संख्या करीब 53 हजार है।

वर्तमान में कोरोना के इंदौर में 9850 एक्टिव केस हैं। भोपाल में 8677 कोरोना के एक्टिव मरीज हैं। ग्वालियर में एक्टिव मरीजों की संख्या 4066 है। प्रदेश में रोजाना 76 हजार से ज्यादा कोरोना सैंपल लिए जा रहे हैं। बीते 15 दिनों में कोरोना पॉजिटिविटी रेट घटकर 4 प्रतिशत से भी कम हो गया है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password