दुनिया के 10 सबसे खतरनाक एयरपोर्ट, यहां विमान लैंड कराना जान जोखिम में डालने के सामान है

10 airport

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में लोग सुगम यात्रा के लिए हवाई जहाज का इस्तेमाल करते हैं। लोग किफायती लागत और कम समय में एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने के लिए प्लेन का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि, दुनिया भर में कुछ ऐसे हवाई अड्डे हैं जहां लोग यात्रा करने से बचते हैं। इन हवाई अड्डों को दुनिया में सबसे बेकार माना जाता है। आइए जानते हैं ऐसे ही एयरपोर्ट के बारे में जहां विमान लैंड कराना जान जोखिम में डालने से कम नहीं है।

1. मैडेरा, पुर्तगाल

मडेरा में अक्सर लोग छुट्टियां मनाने जाते हैं, हालांकि यहां जाने के लिए लोगों को अपनी जान जोखिम में डालनी पड़ती है। ये जगह जहाजों की लैंडिंग के लिए काफी बदनाम है। कई बार तो यहां खतरों को देखते हुए लैंडिंग होती ही नहीं है। दरअसल, ऊंची जगहों से सटे होने के कारण यहां कटीली हवाओं का रूख अक्सर मुश्किल खड़ी कर देता है।

2. सिंट मार्टेन

सिंट मार्टेन पर लैंड करने वाले विमानों के वीडियो सोशल मीडिया भरा पड़ा है। इसका रनवे समुद्र तट के बिल्कुल पीछे बना हुआ है, इसलिए बीच पर मौजूद लोगों के ठीक सिर के ऊपर से विमान जाते हैं। लोगों को यह देखकर मजा आता है, लेकिन ये बेहद खतरनाक है। 2017 में एक विमान के इंजन में ब्लास्ट होने से यहां एक महिला की मौत भी हो गई थी। महिला वहां तमाम पर्यटकों की तरह स्विमसूट पहने एयरपोर्ट की फिंस पर लटकी हुई थी।

3. पारो, भूटान

पारो भूटान का इकलौता इंटरनेशनल एयरपोर्ट है जो समुद्र तल से करीब 7,364 फीट उंचाई पर बना हुआ है। बतादें कि अभी तक कुछ ऐसे पायलट हैं जिन्हें वहां लैंडिंग करने की मंजूरी मिली है। इस एयरपोर्ट के रनवे पर केवल अच्छी विजिबल कंडीशन में ही विमान को लैंड कराया जा सकता है। साथ ही यहां राडार भी काम नहीं करता है। यहां पायलट मैनुअल अप्रोच की मदद से ही लैंड कर पाते हैं।

4. रीगन नेशनल एयरपोर्ट, यूएसए

रीगन नेशनल एयरपोर्ट के पोटोमिक रिवर के पास बने रनवे पर लैंडिंग के लिए एक शार्प टर्न है जो कई बार पायलट के लिए मुश्किल खड़ी कर देता है।

5. लंदन, यूके

ब्रिटेन की राजधानी लंदन के ऊपर से हवाई यात्रा इन दिनों असामान्य हो गई है। लेकिन इस शहर के ऊपर से जब कोई विमान गुजरता है तो गगनचुंबी इमारतों और कैनेरे वॉर्फ के घाट बहुत करीब नजर आते हैं। रनवे पर विमान बिल्कुल खड़े एंगल के साथ लैंड करते हैं। यहां आप हेलीकॉप्टर में लैंड होने जैसा महसूस करेंगे।

6 लेह, भारत

लेह में दुनिया का 23वां सबसे ऊंचा एयरपोर्ट बना है। यह सुनकर शायद आप हैरान ना हों। एयरपोर्ट समुद्र तल से करीब 10,682 फीट ऊंचाई पर है। एक छोटे रनवे के साथ चारों ओर पहाड़ों से घिरा यह एयरपोर्ट बेहद जोखिमभरा है। दोपहर के वक्त हवाएं बहुत तेज होती है, इसलिए फ्लाइट सिर्फ सुबह ही लैंड कर सकती है। दूसरा, यहां भारी विमान नहीं जा सकते हैं। पायलट को यहां जाने से पहले स्पेशल ट्रेनिंग लेनी पड़ती है।

7. इंसब्रक, ऑस्ट्रिया

पहाड़ों से घिरी टायरॉल की राजधानी एक टॉप स्कीइंग डेस्टिनेशन है और उड़ानों के लिहाज से खास है। यहां विमान उड़ा रहे पायलटों के लिए अलग तरह की चुनौतियां होती हैं। रनवे पर उतरने वाले विमानों को लगभग 8,000 फुट ऊंचाई से नोंक की सीध में नीचे लाना पड़ता है। पहाड़ों से टकराती हवाएं और उनकी दिशाओं का भी खास ध्यान रखना पड़ता है।

8. कोंगोन्हास, ब्राजील

साओ पाउलो के डोमेस्टिक एयरपोर्ट पर जल निकासी की समस्या थी। इसके चलते साल 2007 में एक दुर्घटना भी हो गई थी।इसे ठीक करने के लिए रनवे पर फिर से काम शुरू किया गया। हालांकि यहां विमान लैंड कराना आज भी आसान काम नहीं है। यह शहर के ठीक बीचोबीच एक सिंगल रनवे है जो 1930 में शुरू हुआ था। लैंडिंग के वक्त विमान आस-पास के अपार्टमेंट ब्लॉक्स और घर की छतों के ऊपर से गुरजते हैं।

9. सेंट हेलेना

तेज हवा और क्लिफसाइड एयरपोर्ट होने की वजह से यहां लैंडिंग के वक्त यात्रियों को झटके महसूस होते हैं। इसलिए लैंडिंग के समय लॉन्गवुड प्लेन के नजारों पर आंखें जमाए रखिए जहां से नेपोलियन को हटाया गया था। इस रनवे को पहले छोटे विमानों के लिए ही डिजाइन किया गया था, लेकिन बाद में इसे बोइंग 757 के लिए बढ़ाया गया।

10. लुकला, नेपाल

चारों ओर पहाड़, कटीली हवाएं और छोटा रनवे, ये सभी बातें नेपाल के इस एयरपोर्ट को खतरनाक बनाती हैं। कई बार इसे दुनिया का सबसे खतरनाक एयरपोर्ट भी कहा जाता है। इसका रनवे पहाड़ों के बीच एक चट्टान पर बिछाया गया है। जिसकी लंबाई सिर्फ 1,729 फीट है। रनवे के आगे गहरी खाई है। विमानों की रफ्तार धीमी करने के लिए यह रनवे आगे की तरफ से थोड़ा उठा हुआ है।

Share This

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password