खबरे सबसे तेज
Loading...
Weather बिगड़ा मौसम, बढ़ी धड़कन !

प्रदेश में बारिश के साथ ओले गिरने से किसानों को भारी नुकसान हुआ है। वहीं मौसम विभाग ने फिर 24 घंटे का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने प्रदेश के कई इलाकों में तेज बारिश के साथ ओले गिरने की आशंका जताई है। भोपाल, ग्वालियर, सागर, रीवा संभागों में अलर्ट जारी किया गया है।


वहीं जबलपुर में खराब मौसम के चलते स्कूलों सभी निजी और सरकारी स्कूलों की कलेक्टर ने छट्टी घोषित की है, लेकिन कई स्कूलों ने छुट्टी नहीं रखी है।


मौसम की मार, किसान परेशान


-मध्यप्रदेश में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट


-कई जगह तेज बारिश के साथ ओले पड़ने की आशंका


-अगले 24 घंटों के लिए जारी किया अलर्ट


-भोपाल, ग्वालियर, सागर, रीवा संभागों में अलर्ट


-क्षेत्र के कई गांव ओलावृष्टि की चपेट में


-जबलपुर में खराब मौसम के चलते स्कूलों की छट्टी घोषित

और भी..
loading...

मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें

छत्तीसगढ़ की बड़ी खबरें

वर्गीकृत फोटोन्यूज़
Today's Issue

मध्यप्रदेश के मुंगावली और कोलारस उपचुनाव में उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई। उपचुनाव के मतदान में मतदाताओं ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया। मुंगावली में 77.05 और कोलारस में 69.69 फीसदी वोटिंग हुई। मतगणना 28 फरवरी को होगी।


कोलारस में 69.69 फीसदी और मुंगावली में 77.05 फीसदी वोटिंग हुई। मतदान तो खत्म हो गया, मगर सियासी तापमान कम नहीं हुआ है। वैसे भी ये उपचुनाव इतना चर्चित हो गया है कि इसके परिणाम का हर किसी को इंतजार है। वहीं जीत का दावा कांग्रेस भी कर रही है और बीजेपी भी।


इस उपचुनाव में पार्टी से ज्यादा फेस की लड़ाई दिखी। ज्योतिरादित्य सिंधिया के संसदीय क्षेत्र में कैम्पेन की कमान खुद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने संभाल ली। एक दिन में सीएम का रोड शो 40 गांवों से गुजरा। घोषणाओं की झड़ी लग गई। कोलारस और मुंगावली थोड़े समय के लिए राजधानी भोपाल में तब्दील हो गया। ताकत सिंधिया ने भी झोंकी, शुरू से ही यहां वार-पलटवार में कोई कमी नहीं दिखी, लेकिन मतदान से दो दिन पहले सड़क पर घमासान हो गया। कोलारस में बीजेपी विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह की गाड़ी टूटी, तो लाठीचार्ज में कांग्रेस प्रत्याशी घायल हो गए।


इस उपचुनाव में शिकवे-शिकायतों की लिस्ट बहुत लंबी रही। कांग्रेस ने वोटर लिस्ट में गड़बड़ी की शिकायत की। आयोग ने तीन बीएलओ को सस्पेंड किया। अशोक नगर के कलेक्टर बीएस जामोद हटाए गए। प्रभात झा ने भी सिंधिया के खिलाफ शिकायत की, झा ने अपनी जान के खतरे की बात कही। मतदान से दो दिन पहले मुंगावली के कांग्रेस प्रत्याशी बृजेंद्र सिंह यादव का नोट बांटते हुए फोटो वायरल हुआ, फिर कोलारस में भिंड में बीजेपी विधायक नरेंद्र सिंह कुशवाह पर पैसे बांटने का आरोप लगा, यहां हंगामा भी हुआ। पुलिस लाठीचार्ज में कांग्रेस प्रत्याशी महेंद्र सिंह यादव घायल हो गए।


इतना गरम तामपान एक उपचुनाव में बहुत कम देखने को मिलता है। वैसे ये दोनों सीट कांग्रेस की जीती हुईं सीट है। विधायक के निधन के बाद यहां उपचुनाव हुए। ऐसे में अगर एक भी सीट बीजेपी जीतती है, तो इसे वो 2018 विधानसभा चुनाव में प्रचारित भी करेगी। सिंधिया के गढ़ में बीजेपी का परचम शिवराज फेस को और दमदार बना देगा, लेकिन अब इतने घमासान के बाद अगर बीजेपी नाकाम रहती है, तो ये मैसेज भी पूरे प्रदेश में जाएगा। वैसे किसी भी निर्णय पर पहुंचने से पहले हम आपको बता दें कि, रिजल्ट आना अभी बाकी है दोस्त।

और भी..
आज का सवाल

नतीजा            पिछला सवाल

क्या सुप्रीम कोर्ट के आदेश से बड़ा है करणी सेना का फैसला ?


         

थैंक यू डॉक्टर !
मध्य प्रदेश
खबरें शहरो से
छत्तीसगढ़

Follow Us

       
विज्ञापन के लिए संपर्क करे
x