Business: नफा-नुकसान

टैक्स बचाने वालों पर सरकार की नजर, वसूले जा चुके है 26500 करोड़

2/10/2018 12:00:00 AM

टेक्स न चुकाने वालों के लिए सरकार एक खास फार्मूले पर काम कर है। एक खास मॉनिटरिंग सिस्टम की मदद से सरकार ऐसे लोगों के बारे में जानकारी इकट्ठी कर रही है, जो बड़े लेन-देन तो करते हैं, लेकिन बदले में सरकार को पर्याप्त टैक्स नहीं देते। आपको बता दें कि, अब तक सरकार ने ऐसे लोगों पर दवाब बनाकर 1.7 करोड़ का अतिरिक्त टैक्स जमा करवा लिया है और ऐसा करके केंद्र सरकार को दिसंबर तक 26500 करोड़ रुपए की राजस्व मदद मिली है।


बनाए हुए थे नजर


इससे पहले शुक्रवार को वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में लिखित जवाब देते हुए कहा था कि, पिछले कुछ सालों से टैक्स डिपार्टमेंट ऐसे लोगों को पर नजर बनाए हुआ था, जो बड़े पेमाने पर रकम का आदान प्रदान तो करते हैं, लेकिन पर्यापत टेक्स जमा नहीं करते। डिपार्टमेंट ऐसे लोंगों को चिन्हित करके उनके घर और जरूरी डाटा की जांच में भी जुटा है। 


इस तरह की कार्रवाई


उन्होंने अपनी बात को विस्तार देते हुए संसद को बताया कि, 2 लाख से ऊपर के किसी भी लेन-देन के लिए PAN नंबर जरूरी होता है, जिससे लोगों के सभी तरह के लेन-देन की जानकारी सरकार को मिलती रहे। इसकी वजह से पिछले साल ऐसे 35 लाख लोगों टैक्स डिपार्टमेंट ने शक के दायरे में लेते हुए चिन्हित किया, साथ ही ये पता किया कि, उन्होंने कितना आदान प्रदान किया है और कितना टैक्स चुकाया है। इस तरह काफी लोगों ने टैक्स जमा किया, जिससे राजस्व आय बढ़ी।


दस फीसदी टारगेट पर


जेटली ने कहा कि हमारा मकसद देश के 1.25 करोड़ लोगों से रिटर्न फाइल करवाना है। इन्हें हमने चयनित कर लिया है। उन्होंने कहा कि, ऐसे लोगों से हम मेसेज, ईमेल, या फोन नंबर के आधार पर संपर्क कर रहे है। 


Select Rate

Post Comment
 
Enter Code:
सम्बधित खबरे

देखें अन्य वीडियो

देखें अन्य फोटो