मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें

छत्तीसगढ़ की बड़ी खबरें

वर्गीकृत फोटोन्यूज़
खबरे सबसे तेज
Loading...
Weather गर्मी के तेवर से लोग परेशान

प्रदेश में मौसम के तेवर और तीखे हो गए हैं। हालात ये हैं कि भोपाल संभाग में भोपाल और राजगढ़ में रविवार की रात इस सीजन की सबसे गर्म रात रही, जहां राजधानी में रात का पारा 31.4 डिग्री रिकॉर्ड हुआ, वहीं राजगढ़ में ये 31.8 डिग्री पर पहुंच गया। भोपाल में पिछले 16 साल में ऐसा पांचवीं बार हुआ है जब मई में रात इतनी तपी है। इससे पहले 17 मई 2002 को रात का तापमान 32.9 डिग्री दर्ज किया गया था। जो कि 1980 से लेकर अब तक 38 साल में मई में रात का सबसे ज्यादा तापमान है।

और भी..
loading...
मध्य प्रदेश
खबरें शहरो से
छत्तीसगढ़
Today's Issue

मध्यप्रदेश कांग्रेस सत्ता हासिल करने के लिए सिर्फ जीतने वाले उम्मीदवारों पर दांव लगाने की तैयारी कर रही है। सूत्रों के अनुसार कांग्रेस ने जो सर्वे के जरिए लिस्ट तैयार की है, उसमें कई दिग्गज नेताओं के नाम है।


अब बारी तो दम दिखाने की ही है और दम दिखाएंगे वो चेहरे जो चुनाव के मैदान में उतरेंगे। कांग्रेस के उम्मीदवार दम दिखाने में पीछे ना रह जाए, इसलिए तय भी किया गया कि चुनिंदा सीटों पर उम्मीदवारों के नामों का एलान चुनाव से काफी पहले कर दिया जाए। पिछले दिनों कमलनाथ ने इसके संकेत भी दिए थे।


और अब इस दिशा में कांग्रेस के कदम आगे बढ़ते नजर आ रही है। सर्वे के आधार पर कांग्रेस की 67 नामों की पहली लिस्ट लगभग तैयार है। संभावित नामों में 55 मौजूदा विधायक है, जिन्हें दोबारा चुनावी मैदान में दम दिखाने का मौका मिल सकता है, तो बाकी बची सीटों पर कुछ पुराने तो कुछ नए चेहरों पर दांव लगाया जा सकता है। संभावित नामों पर गौर करें तो छिंदवाड़ा से कमलनाथ के बेटे नकुल नाथ चुनाव लड़ सकते हैं। झाबुआ से कांतिलाल भूरिया के बेटे विक्रांत भूरिया को टिकट मिल सकता है।  वहीं लिस्ट में विदिशा, सांची, मुलताई, भोपाल मध्य, गाडरवाड़ा, सोनकच्छ, बुदनी, मंदसौर, सांवेर और आलोट विधानसभा से चुनाव लड़ने वाले संभावित उम्मीदवारों के नाम करीब करीब तय है। 


इस कवायद के पीछे कांग्रेस का तर्क हो सकता है कि उम्मीदवारों को काम करने का मौका मिलेगा। मगर सच तो ये भी है कि जिन सीटों पर चेहरे तय किए गए वहां कोई और चेहरा भी कांग्रेस के पास नहीं। इसके पीछे ये सोच भी हो सकती है कि दिग्गजों को मैदान में उतारने से उनकी प्रतिष्ठा भी दांव पर लगेगी और वो चुनाव जीतने की भरसक मेहनत करेंगे। बहरहाल, इनमें से कई चेहरे पिछला चुनाव हार चुके है। ऐसे में सवाल ये भी जिन चेहरों को कांग्रेस पसंद कर रही है क्या उन्हें जनता भी पसंद करेगी, क्योंकि इस बार ढाई करोड़ युवा वोटर्स वोट डालने वाले है। बीजेपी को तो यकीन ही नहीं कि इतनी मशक्कत के बाद भी कांग्रेस के ये चेहरे चुनाव जीत सकेंगे।


ऐसा नहीं है कि ये दांव कांग्रेस केवल मध्यप्रदेश में ही चल रही है छत्तीसगढ़ में भी राहुल गांधी 15 अगस्त से पहले टिकट बांटने का एलान कर चुके है। आम आदमी पार्टी ने भी छत्तीसगढ़ में उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी तो अजीत जोगी भी कई उम्मीदवारों के नामों का एलान कर चुके है। सियासत की बिसात पर प्रतिद्वंदी की चाल देखकर ही चाल चली जाती है। पहले चाल चलने वाला कामयाब भी हो सकता है और मात भी खा सकता है।



ख़बर का वीडियो देखने के लिए क्लिक करें



और भी..
आज का सवाल

नतीजा            पिछला सवाल

क्या सुप्रीम कोर्ट के आदेश से बड़ा है करणी सेना का फैसला ?


         

थैंक यू डॉक्टर !

Follow Us

       
विज्ञापन के लिए संपर्क करे
x