खबरे सबसे तेज
Weather नर्म हुऐ सूरज के तेवर

  

गर्मी की तपिश से परेशान लोगों के लिए रविवार का दिन भी कुछ राहत भरा रहेगा।  मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर भारत से लगातार प्रदेश में आ रही हवाऐं आपने साथ नमी ला रही है। जिसके चलते तापमान में मामूली गिरावट दर्ज की जा रही है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन से चार दिनों तक तापमान में मामूली गिरावट दर्ज की जाने की उम्मीद है। साथ ही प्रदेश के रीवा सतना, शिवपुरी खजुराहो समेत उत्तरपूर्वी मध्यप्रदेश में लू की चेतावनी भी जारी की गई है। वहीं राजधानी भोपाल के आसमान में हल्के बादल दिखाई देगें। दिन में सूरज की तेज तपिश के चलते शहर की सड़कें सुनसान है। 

और भी..
Today's Issue

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की टेबल पर इंटेलीजेंस की वो रिपोर्ट पहुंच गई है जिसमें मंत्री और विधायकों की पूरी कुंडली है। विधानसभा चुनाव के पहले मंत्री और विधायकों की जनता के बीच छवि जानने के लिए सीएम ने पीएचक्यू से एक रिपोर्ट तैयार करवाई। रिपोर्ट में दो महिला मंत्रियों की स्थिति बेहद खराब बताई गई है। रिपोर्ट में इस बात का भी जिक्र है कि कुछ मंत्री अपने अपने विभागों में रुचि नहीं ले रहे हैं। एक काॅलम विधायकों के प्रति जनता में नाराजगी का भी है। कार्यकर्ता तवज्जो न मिलने से, तो जनता स्थानीय समस्याओं पर विधायक के ध्यान न देने से नाराज है। हालांकि पार्टी मानती है कि इस तरह के सर्वे कमियां दूर करने में मददगार साबित होते हैं।


विधायकों के खिलाफ आक्रोश और मिशन 2018 की चुनौतियों की चिंता प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में भी दिखाई दी। मोहनखेड़ा में सीएम शिवराज ने विधायकों-सांसदों से दो टूक कहा कि जो नेता जनता की सेवा नहीं कर सकते वो पद छोड़ दें।


जाहिर है, बीजेपी चाहती है कि मौजूदा विधायकों को लेकर किसी तरह का असंतोष नहीं होना चाहिए। पीएचक्यू की इंटेलीजेंस शाखा ने अलग अलग थानों और ट्रैफिक पुलिस से छह महीने की कवायद के बाद जो गोपनीय रिपोर्ट तैयार की है, उसमें जिक्र है कि कुछ विधायक अपने ही इलाकों में उपद्रव नहीं रोक पाए। मंत्री के प्रभार वाले जिलों में दौरों का मूल्यांकन भी किया गया है। मंत्रियों ने विभाग का कितना काम किया, कार्यकर्ताओं से मुलाकात की या नहीं, दौरा निजी उपयोग में कितना आया। ये जानकारी भी रूट चार्ट के जरिए निकाली गई है। इस सर्वे में ये भी जानकारी इकट्ठा की गई है कि किसी विभाग में आरटीआई के तहत कितनी जानकारी मांगी गई। संगठन भी मानता है कि ये सब आकलन पार्टी की प्राथमिकता में शामिल रहता है और चुनाव में भी इसी आधार पर टिकट मिलता है। रिपेार्ट में राज्यमंत्रियों की परफाॅरमेंस को बेहतर माना गया है। इस रिपोर्ट के आधार पर सीएम मंत्री और विधायकों की क्लास लेने वाले हैं। नर्मदा सेवा यात्रा की समाप्ति के बाद सीएम विधायकों से वन टू वन करने वाले हैं और वो भी पूरी रिपोर्ट के साथ। वहीं अगले महीने में परफारमेंस के आधार पर मंत्रियों के विभाग भी बदले जाएंगे। दो मंत्रियों की मंत्रिमंडल से छुटटी हो सकती है तो मालवा से दो विधायकों को मंत्री बनाने की भी तैयारी है।


पूर्ण वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 



और भी..
आज का सवाल

नतीजा            पिछला सवाल

क्या सरकार को GST लागू करना चाहिए?


         

शेयर बाजार
Share Market BSE

Share Market NSE
मध्य प्रदेश
खबरें शहरो से
छत्तीसगढ़

Follow Us

       
विज्ञापन के लिए संपर्क करे
x